शिवबाबा की दिल पर कौन चढ़ सकता है?

“बाप से और ईश्वरीय परिवार से जिगरी प्यार हो तो सफलता मिलती रहेगी” 12/01/18 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन “मीठे बच्चे – बाप की दुआयें लेनी हैं तो हर कदम श्रीमत पर चलो, चाल-चलन अच्छी रखो” प्रश्न: शिवबाबा की दिल पर कौन चढ़ सकता है? उत्तर: जिनकी गैरन्टी ब्रह्मा बाबा …

पूरा सरेण्डर किसे कहेंगे, उनकी निशानी क्या होगी?

“मनन शक्ति के अनुभवी बनो तो ज्ञान धन बढ़ता रहेगा” 11/01/18 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन “मीठे बच्चे – तुम पीस स्थापन करने के निमित्त हो, इसलिए बहुत-बहुत पीस में रहना है, बुद्धि में रहे कि हम बाप के एडाप्टेड बच्चे आपस में भाई-बहन हैं” प्रश्न: पूरा सरेण्डर किसे कहेंगे, …

सबसे सर्वोत्तम कार्य कौन सा है जो बाप ही करते हैं?

“जहाँ एकता और एकाग्रता की शक्ति है वहाँ सफलता सहज प्राप्त होती है” 10/01/18 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन ”मीठे बच्चे – साकार शरीर को याद करना भी भूत अभिमानी बनना है, क्योंकि शरीर 5 भूतों का है, तुम्हें तो देही-अभिमानी बन एक विदेही बाप को याद करना है” प्रश्न: …

Father has two types of Children-What is the difference between the two?

“Become a carefree emperor with the awareness that the Father is Karavanhar (One who inspires everyone) and continue to experience the flying stage.” 08/01/18 Morning Murli Om Shanti BapDada Madhuban Sweet children, the more you relate knowledge to others, the more knowledge will become refined in your intellects. Therefore, definitely …

बाप के पास दो प्रकार के बच्चे कौन से हैं, उन दोनों में अन्तर क्या है?

“करावनहार बाप है” – इस स्मृति से बेफिक्र बादशाह बन उड़ती कला का अनुभव करते चलो” 08/01/18 प्रात:मुरली ओम् शान्ति “बापदादा” मधुबन “मीठे बच्चे – जितना-जितना दूसरों को ज्ञान सुनायेंगे उतना तुम्हारी बुद्धि में ज्ञान रिफाइन होता जायेगा, इसलिए सर्विस जरूर करनी है” प्रश्न: बाप के पास दो प्रकार के …

Which aspect of this wonderful play is well worth understanding?

06/01/18 Morning Murli Om Shanti BapDada Madhuban Sweet children, your bodies have now become completely old. The Father has come to make you  as immortal as the kalpa tree. You will become immortal for half a cycle. Question: Which aspect of this wonderful play is well worth understanding? Answer: Only …